सफेद दाग का घरेलू इलाज – Leucoderma Treatment in Hindi

सफेद दाग को मेडिकल भाषा में विटिलिगो (vitiligo) या ल्यूकोडर्मा (leucoderma) कहा जाता है। यह शरीर के विभिन्न हिस्सों जैसे हाथ, पैर, चेहरे, होंठ और आंखों और मुंह के आसपास हो सकते हैं।

सफेद दाग होने का सही कारण अभी तक अज्ञात है। विशेषज्ञों का मानना है कि यह एक ऑटोइम्यून डिसऑर्डर हो सकता है जिसमें इम्यून सिस्टम खुद मेलेनॉसाइट्स या मेलेनिन उत्पादन करने वाले सेल्स पर हमला करता है।

इस बीमारी के होने के अन्य कारण हो सकते हैं – जेनेटिक डिसऑर्डर (आनुवंशिक प्रवृति), सूर्य की रोशनी और धूप में अधिक रहना, अत्यधिक तनाव या डिप्रेशन और विटामिन बी12 की कमी

सतही फंगल संक्रमण (superficial fungal infections) जैसे एक्जिमा (खुजली), सोरायसिस, टीनेया वेर्सिकलर या अन्य स्किन कंडीशन के कारण भी त्वचा पर सफेद दाग हो सकते हैं।

इस समस्या के कारण मरीज को काफी शर्म महसूस होती है और उसका आत्मविश्वास काफी कम हो जाता है। लेकिन आप हार न मानें क्योंकि कुछ आसान घरेलू उपचारों को अपनाकर भी आप सफेद दागों से छुटकारा पा सकते हैं। साथ ही, कई मामलों में यह समस्या समय के साथ अपनेआप ही ठीक हो जाती है।

यहाँ पर सफेद दाग के उपचार के लिए 10 सबसे कारगर घरेलू उपचार दिए जा रहें हैं। साथ ही उचित निदान और उपचार के लिए अपने डॉक्टर से भी जाँच करते रहें।

1. बावची (Psoralea corylifolia)

बावची या बकुची को हाइपोपिगमेंटेशन में काफी कारगर आयुर्वेदिक औषधि माना जाता है। इसमें मौजूद एक्टिव कंपोनेंट्स त्वचा के सफेद दाग को । इसमें एंटिसोरियेटिक (antipsoriatic) प्रॉपर्टीज भी होती हैं जो सोरायसिस को ठीक करने में मदद करती हैं।

  • बावची के बीजों को अदरक के जूस में तीन दिन के लिए डुबोकर रखें। हर दिन इस अदरक के रस को बदलते रहें। तीन दिन बाद इन बीजों को निकाल लें और हथेली पर रखके रगड़ें। फिर इन बीजों को धूप में सुखाकर पीस लें। रोज इस पाउडर की एक ग्राम मात्रा को एक गिलास दूध में डालकर सेवन करें। ऐसा लगातार 40 दिनों तक करें। आप इस पाउडर को सीधे सफेद दागों पर लगा भी सकते हैं।
  • या फिर, दागों पर बावची का तेल लगाकर 15 मिनट के लिए खुली धूप में बैठें।

2. जिन्कगो बिलोबा (Ginkgo Biloba)

शोधों से यह पता चला है कि जिन्कगो बिलोबा में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और इम्मुनोमोडुलेटरी (immunomodulatory) प्रॉपर्टीज त्वचा के सफेद दाग को ठीक करने में मदद कर सकती हैं। यह बीमारी को और बढ़ने से रोकता है और रीपिगमेंटेशन (repigmentation) को बढ़ावा देता है।

जिन्कगो बिलोबा का जनरल डोस है – 40 से 80 mg दिन में तीन बार। इसका उचित डोस जानने के लिए और यह आपके लिए उपयुक्त है या नहीं यह जानने के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।

3. नारियल का तेल

नारियल का तेल स्किन को पोषण प्रदान करता है और क्रोनिक इंफ्लामेशन को कम करता है। यह स्किन पर रीपिगमेंटेशन को बढ़ावा देकर सफेद दाग को ठीक करने में मदद करता है। साथ ही, इसके एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल फायदे भी होते हैं।

रोज दिन में दो-तीन बार नारियल के तेल को सफेद दागों पर लगायें।

4. अदरक

अदरक भी सफ़ेद दाग के उपचार में काफी फायदेमंद हर्ब होता है। यह ब्लड सर्कुलेशन और मेलेनिन प्रोडक्शन को ठीक करता है।

  • ताजा अदरक को स्लाइस में काटकर दागों पर रखें। इसे तब तक रखा रहने दें जबतक की अदरक सूख न जाये। इस उपचार को लगातार कुछ हफ्तों तक रोज एक या दो बार करें।
  • ताजा अदरक के जूस में ताजा पुदीना की पत्तियां डालकर सेवन करें। इसे रोज सेवन करें।

5. कॉपर (Copper)

कॉपर शरीर में मेलेनिन के प्रोडक्शन को ठीक करता है। ऐसा माना जाता है कि कॉपर टाइरोसिनेस एंजाइम के प्रोडक्शन में जरूरी होता है। टाइरोसिनेस एंजाइम, टाइरोसिन को मेलेनिन पिगमेंट में बदलने के लिए जरूरी होता है।

  • रात को सोने से पहले एक कॉपर के बर्तन में पीने का पानी डालकर रख दें। (इस पानी को रेफ्रीजिरेटर न रखें क्योंकि इससे वह कम प्रभावी हो जाता है)।
  • सुबह उठकर इस पानी को पी लें। सुबह तक इस पानी में कॉपर आयन्स घुल जायेंगे जो मेलेनिन प्रोडक्शन को बढ़ाने में मदद करेंगे।

6. लाल मिट्टी

लाल मिट्टी में भी अत्यधिक कॉपर कंटेंट होता है जो स्किन पिगमेंट को रिस्टोर करने में मदद करता है और सफेद दाग से छुटकारा दिलाता है।

  • लाल मिट्टी और अदरक के जूस को बराबर मात्रा में मिलाकर पेस्ट तैयार करें।
  • अब इस पेस्ट को दागों पर लगायें।
  • अब इसे सूखने दें और फिर पानी से धो लें।
  • इस उपचार को कुछ महीनों के लिए लगातार रोज करें।

7. मूली के बीज (Radish Seeds)

मूली के बीज और विनेगर का पेस्ट लगाना सफेद दाग का काफी लोकप्रिय आयुर्वेदिक उपचार है।

  • 25 ग्राम मूली के बीजों को पीसकर मोटा पाउडर बना लें।
  • अब इसमें दो चम्मच विनेगर डालकर पेस्ट बनायें।
  • अब इस पेस्ट को दागों पर 30 मिनट के लिए लगाये रखें और हल्के गर्म पानी से धो लें।
  • कुछ महीनों के लिए इसे रोज करें।

8. सेब का सिरका (एप्पल साइडर विनेगर)

सेब के सिरका में एंटीमाइक्रोबियल प्रॉपर्टीज होती हैं जो सफेद दाग पैदा करने वाली फंगस को खत्म करती हैं।

  • सेब का सिरका और पानी को बराबर मात्रा में मिलाएं। अब इससे अपने दागों को धोएं। ऐसा लगातार एक महीने के लिए दिन में दो बार करें। इससे सफेद दागों का रंग बदलने लगेगा और वह धीरे-धीरे गायब हो जायेंगे।
  • साथ ही, रोज खाना खाने से पहले एक गिलास पानी में एक चम्मच सेब का सिरका मिलाकर पियें।

9. हल्दी

हल्दी भी सफेद दाग दूर करने में इस्तेमाल की जाती है। हल्दी और सरसों के तेल का मिश्रण इसमें काफी फायदेमंद माना जाता है।

  • पांच चम्मच हल्दी के पाउडर को 250 मिलीलीटर (लगभग एक कप) सरसों के तेल में मिलाएं। अब इस मिश्रण को अपने दागों पर लगायें। इस उपचार को लगभग एक साल के लिए रोज दिन में दो बार प्रयोग करें।
  • या फिर, हल्दी और नीम की पत्तियों को मिलाकर पेस्ट तैयार करें। अब इसे दागों पर लगायें। इस मिश्रण में एंटीसेप्टिक प्रॉपर्टीज होती हैं जो स्किन में किसी भी प्रकार के इन्फेक्शन को रोकती हैं।

10. नीम

नीम किसी भी प्रकार की स्किन प्रॉब्लम्स में काफी फायदेमंद होती है। ऐसा माना जाता है कि यह स्किन पिगमेंटेशन को रिस्टोर करने में भी मदद करती है। यदि इसका सेवन किया जाये तो रक्त को शुद्ध भी करती है और रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाती है।

  • पिसी हुई नीम की पत्तियों और दही को मिलाकर पेस्ट तैयार करें। अब इस मिश्रण को अपने दागों पर लगायें और सूखने दें। फिर इसे धो लें। इसे कुछ महीनों के लिए रोज करें।
  • या फिर, नीम के तेल और नारियल के तेल को मिलाकर सफेद दागों पर लगायें।
  • आप रोज नीम के जूस का सेवन भी कर सकते हैं या फिर इसके सप्लीमेंट भी ले सकते हैं। या फिर, रोज खाना खाने से पहले कुछ नीम की पत्तियों को खाएं। ऐसा दोपहर और रात के खाने से पहले करें।

इन उपचारों को अपनाने के साथ-साथ अपने खानपान पर भी ध्यान दें। सफेद दाग के मरीजों को हाइड्रोक्विनोन (hydroquinone) युक्त फल जैसे बेर, जामुन आदि या इनसे बनी चीजें जैसे रेड वाइन आदि का सेवन नहीं करना चाहिए। हाइड्रोक्विनोन प्राकृतिक depigmenting एजेंट की तरह काम करता है।

चूँकि सफेद दाग विटामिन बी12 की कमी के कारण भी होते हैं इसलिए अपने भोजन में गोभी, पालक, सेम, अंजीर, अखरोट, चना और अन्य विटामिन बी12 युक्त पदार्थों को शामिल करें। लेकिन रेड मीट और सीफूड का सेवन न करें।

13 Responses

  1. आशिया परवीन कहते हैं:

    मुझे 6 साल से सफेद दाग हैं, बहुत इलाज कराया पर ठीक नहीं हुए, प्लीज कोई उपाय बताएं जिससे यह जल्दी ठीक हो जाएँ, क्योंकि मेरी शादी भी होने वाली है.

  2. सिब्लू खान कहते हैं:

    मेरे बहुत ही खास दोस्त को सफेद दाग हैं और बचपन से हैं, बहुत दवा कराइ पर वह ठीक नहीं हुआ. कोई अच्छी दवा बताएं क्योंकि वह शादी करने वाला है.

  3. पूजा कहते हैं:

    मुझे करीब 6 महीने से हैं, होम्योपैथिक दवा भी कराई लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. क्या करें प्लीज कुछ बताएं.

  4. अजीत कहते हैं:

    मेरी आँखों और भौहों के बीच में सफेद-सफेद दाग हो गए हैं, कुछ इलाज बताएं.

  5. रंजीत कहते हैं:

    मेरे हाथ पैर में बहुत ज्यादा दाग हो गए हैं उपाय बताएं.

  6. सुधीर कहते हैं:

    होंठों पर हुए सफेद दागों को ठीक करने लिए क्या किया जा सकता है.

  7. सोनू कहते हैं:

    मेरे 3 साल से सफ़ेद दाग हुआ है शुरू में आयुर्वेद में दवा चलाया था ठीक हो गया था लेकिन फिर होने लगा है.

  8. रेखा कहते हैं:

    मेरे सफ़ेद दाग हैं, काफी पुराने 10 साल से हैं। काफी इलाज करवाया है, ठीक हो जाते हैं लेकिन फिर से आ जाते हैं नयी जगह पर। क्या करूँ आप उपाय बताएं।

    • रेखा कहते हैं:

      मेरे सफेद दाग हैं काफी पुराने 10 साल से हैं. काफी इलाज करवाया ठीक हो जाते हैं लेकिन फिर आ जाते हैं. पूरी बॉडी पर हैं क्या कोई देसी इलाज है.

  9. अर्जुन कुमार कहते हैं:

    मेरी घरवाली को चेहरे पर बाएं तरफ सफ़ेद दाग हो गया है, बहुत दवाई करवाई लेकिन सही नहीं हुआ. बहुत परेशान हैं कृपया उपाय बताएं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

error: Content is Copyrighted