याददाश्त बढ़ाने के घरेलू उपाय – Increase Memory Power

कमजोर याददाश्त के कारण रोजमर्रा की जिंदगी में काफी परेशानीयों का सामना करना पड़ सकता है। यह काफी common problem है खासतौर से बढ़ती उम्र के लोगो में।

याददाश्त कम होने के कारण हैं – सोने का अभाव (sleep deprivation), तनाव (stress), depression, पोषक तत्वों की कमी (nutritional deficiencies), underactive या overactive thyroid, शराब पीना (drinking alcohol), धूम्रपान (smoking) और कुछ medicines के इस्तेमाल के कारण

पागलपन (Dementia) और Alzheimer’s disease जैसी गंभीर बिमारियों के कारण भी भूलने की बीमारी हो सकती है। यदि आपको कोई गंभीर बीमारी है जिसके कारण आपकी याददाश्त कम हो गई है तो ऐसे में doctor से proper diagnosis और treatment कराना ही अच्छा होता है।

General memory problems में आप कुछ आसान घरेलू उपाय अपनाकर अपनी याददाश्त बड़ा सकते हैं।

यहाँ पर memory बढ़ाने के 8 सबसे कारगर घरेलू उपाय दिए जा रहे हैं –

1. बादाम (Almond)

Memory और brainpower को improve करने के लिए बादाम सबसे कारगर, सबसे प्रचलित और सबसे प्राचीन औषधि है। इसमें अत्यधिक antioxidants और omega-3 fatty acids पाए जाते हैं जो memory को boost करते हैं। इसमें antioxidant होने के कारण यह आंखों की रोशनी को भी बढ़ाता है

  • रात को 4-5 बादाम पानी में भिगोकर रख दें।
  • सुबह इनके छिलके अलग करके पीस लें।
  • अब इस पेस्ट को एक गिलास दूध में डालकर गर्म करें।
  • स्वाद के लिए चीनी या शहद मिला लें।
  • अब इसका सेवन करें।

इसके नियमित सेवन से आपका दिमाग तेज होगा और भूलने की बीमारी दूर होगी।

2. Rosemary

Rosemary weak memory को improve करने की एक और popular herb है। यहाँ तक कि इसकी खुशबू से ही आपको बहुत लाभ मिल सकता है। England में University of Northumbria में हुए एक शोध के अनुसार rosemary हमारी prospective memory को improve करती है जो हमारी daily life के लिए काफी जरुरी है।

Prospective memory का मतलब होता है भविष्य में हमें क्या करना उसे याद रखना (जैसे gas खत्म होने से पहले नंबर लगाना है, किसी के phone को call back करना है)।

  • एक चम्मच सूखी rosemary को एक कप पानी में 5 मिनट के लिए उबालें। अब छानकर स्वादानुसार शहद डाल दें। कुछ हफ्तों के लिए इसे रोज पियें।
  • आप rosemary के oil की खुशबू भी ले सकते हैं या इसे room freshener में डालकर घर में स्प्रे भी कर सकते हैं।

Note – 18 साल से कम उम्र के बच्चे rosemary का इस्तेमाल न करें।

3. कलौंजी (Black Seed)

कलौंजी में antioxidant, anti-inflammatory और neuron-protecting properties होती हैं जो mind को sharp करती हैं।

  • डेढ़ चम्मच कलौंजी में थोड़ा सा शहद मिला लें। कुछ दिनों तक इसे दिन में दो बार सेवन करें।
  • Doctor की सलाह लेकर आप इसके capsule भी ले सकते हैं।

4. आमला

याददाश्त बढ़ाने के लिए आयुर्वेद में आमला को काफी फायदेमंद बताया गया है। यह nervous system को मजबूत भी करता है।

2007 में हुई एक study से यह बात सामने आई थी कि आमला का चूर्ण याददाश्त बढ़ाने के साथ Alzheimer’s disease को भी काबू में करता है। इसमें मौजूद अत्यधिक vitamin C और antioxidant content एक memory booster की तरह काम करता है।

  • रोज दिन में तीन बार आमला के चूर्ण की दो-दो चम्मच सेवन करें।
  • आमला की जड़ को तिल के साथ मिलाकर पाउडर बना लें। अब इसमें शहद मिलाकर रोज सेवन करें।

5. ब्राह्मी

ब्राह्मी एक आयुर्वेदिक औषधि है और इसके कई mental benefits होते हैं। यह brain tonic और neuroprotective की तरह काम करती है।

2008 में Journal of Alternative and Complementary Medicine में ब्राह्मी के बारे में एक report publish हुई थी। इसके अनुसार ब्राह्मी शब्द याद करने की शक्ति को improve करती है और तनाव एवं डिप्रेशन को कम करती है। यह शोध 65 साल से अधिक उम्र वाले लोगों में किया गया था।

  • ब्राह्मी की पत्तियों से निकले रस की दो चम्मच दिन में तीन बार सेवन करें।
  • आधा चम्मच ब्राह्मी के पाउडर को एक कप दूध में घोल लें। अब इसमें थोड़ा सा इलाइची का पाउडर और घी मिलाकर रोज सेवन करें।
  • ब्राह्मी के 300 mg के supplement भी medical store पर आसानी से मिल जाते हैं। इनके सेवन से पहले अपने doctor से consult करें।

ऊपर दिए गए तीन उपायों में से कोई एक उपाय नियमित अपनाएं।

6. मछली का तेल (Fish Oil)

Fish oil के supplements किसी भी medical store पर easily मिल जाते हैं। इसमें अत्यधिक मात्र में omega-3 fatty acids होता है जो याददाश्त को बढ़ाता है और cognitive decline को कम करता है। इसमें docosahexaenoic acid (DHA) भी पाई जाती है जो brain plaques के formation को कम करके Alzheimer’s disease होने से बचाती है।

  • 600 mg DHA वाले supplements को रोज लें। Dosage की उचित जानकारी के लिए अपने doctor से सलाह लें।
  • आप अपने भोजन में fatty fish जैसे salmon, herring, mackerel और sardines को भी शामिल कर सकते हैं।

7. नारियल का तेल (Coconut Oil)

नारियल का तेल मस्तिष्क की कोशिकाओं को ईंधन प्रदान करता है, इसलिए यह याददाश्त बढ़ाने के लिए काफी फायदेमंद है। ऐसा भी माना जाता है कि यह पागलपन और Alzheimer’s disease से बचाता है। इसके साथ ही यह energy को boost करता है, cholesterol level को कम करता है और त्वचा एवं बालों को स्वस्थ रखता है।

  • रोज एक चम्मच दिन में दो बार organic, cold-pressed, virgin coconut oil का सेवन करें।
  • आप भोजन भी नारियल के तेल से बना सकते हैं।

8. दालचीनी और शहद (Cinnamon and Honey)

दालचीनी और शहद nervous tension को दूर करके memory improve करते हैं। कई शोधों से यह साबित हुआ है कि दालचीनी को सिर्फ सूंघने मात्र से याददाश्त बढ़ती है और cognitive function ठीक होते हैं।

ऐसा भी माना जाता है कि रात को सोने से पहले शहद के सेवन से nocturnal metabolic stress कम होता है, अच्छी नींद आती है और स्मरण शक्ति बढ़ती है।

  • एक चम्मच शहद में एक चुटकी दालचीनी छिड़क दें।
  • इसे रोज रात को सोने से पहले सेवन करें।

याददाश्त बढ़ाने के अतिरिक्त टिप्स

  • हमेशा संतुलित और पोषक तत्वों से युक्त भोजन का ही सेवन करें। आपके भोजन में विटामिन ए, बी 12, सी, बीटा कैरोटीन, फोलिक एसिड, जिंक, आयरन, कैल्शियम और मैग्नीशियम युक्त पदार्थों का होना आवश्यक है।
  • उच्च वसा वाले आहार को न खाएं।
  • अपने भोजन में herbs और spices को भी शामिल करें जैसे तुलसी, हल्दी और काली मिर्च। आप green tea का भी सेवन कर सकते हैं क्योंकि पर्याप्त antioxidants हते हैं।
  • Brain games खेलकर अपने दिमाग को व्यायाम भी कराएँ। सुडोकू, चेस आदि ऐसे कई brain games हैं जो याददाश्त को बढ़ाने में मदद करते हैं।
  • स्मरण शक्ति बढ़ाने के कई उपकरण भी बाजार में उपलब्ध होते हैं जिनको इस्तेमाल करके आप लाभ उठा सकते हैं।
  • नियमित physical exercise भी करें क्योंकि इससे शरीर और दिमाग को पर्याप्त oxygen मिलती है।
  • पूरी नींद लें। कम नींद लेने से दिमाग की काम करने की क्षमता पर भी बुरा असर होता है। रोज रात को जल्दी सोयें और सुबह जल्दी उठकर खुली हवा में टहलें।
  • कुछ समय के लिए सुबह की धूप में भी टहलें क्योंकि इससे शरीर को vitamin D मिलता है।
  • तनाव मुक्त और happy life जियें।