आँखों में जलन के 10 घरेलू उपचार – Itchy Eyes Home Remedies in Hindi

हर इंसान को अपने जीवन में कभी न कभी आँखों में जलन की समस्या होती है। यहां तक कि, आँखों के अन्दर और आसपास जलन होने की समस्या होना काफी आम बात है। इसके कारण व्यक्ति को काफी दुखदाई और असुविधाजनक अनुभव हो सकता है।

आँखों में जलन होने के मुख्य लक्षण निम्न हैं – आँखों में जलने जैसा अनुभव होना, पानी आना, पलकों में सूजन होना, ऑंखें लाल होना, आँखों से कीचड़ निकलना और प्रकाश या लाइट के प्रति संवेदनशीलता बढ़ जाना।

आँखों में जलन के मुख्य कारण निम्न हैं – आँखों में एलर्जिक रिएक्शन होना या किसी प्रकार का इन्फेक्शन होना। इसके अन्य कारण हैं आँखों में सूखापन, कांटेक्ट लेंस का उपयोग, आँखों की देखभाल ठीक से न करना, एक्सपायरी कॉस्मेटिक्स का उपयोग और आँखों में धूल या मिट्टी चली जाना

आँखों में जलन होने की सम्भावना उन लोगों को ज्यादा होती है जो बार-बार अपनी आँखों को छूते हैं या उन्हें मसलते हैं। साथ ही, वातावरण में अत्यधिक प्रदूषण होने पर या एलर्जिक सीजन होने पर यह समस्या और ज्यादा बढ़ जाती है।

इस समस्या का तुरंत उपचार करना जरूरी होता है, क्यूंकि इसे ऐसा ही छोड़ देने पर ऑंखें डैमेज हो जाने की सम्भावना बढ़ जाती है और कई अन्य समस्यायें भी हो सकती हैं।

आँखों की जलन से तुरंत राहत पाने के लिए आप कुछ आसान घरेलू उपचारों को अपना सकते हैं। इसमें से ज्यादातर उपचार घर पर मौजूद पदार्थों के इस्तेमाल से ही किये जा सकते हैं।

लेकिन, यदि यह समस्या काफी गंभीर है, तो आपको तुरंत किसी ऑय स्पेशलिस्ट को दिखाना चाहिए। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार आँखों की जलन का उपचार करने से पहले इसका मुख्य कारण जान लेना जरूरी होता है।

छोटी-मोटी आँखों की जलन को ठीक करने के लिए नीचे दिए गए 10 बेस्ट घरेलू उपचार फायदेमंद होते हैं –

1. कोल्ड कंप्रेस (Cold Compresses)

आँखों पर कोल्ड कंप्रेस या ठंडी पट्टी रखने से जलन से तुरंत छुटकारा मिल सकता है।

एलर्जी के कारण होने वाली आँखों की जलन पर ठंडी पट्टी रखना सबसे कारगर घरेलू उपचार होता है। साथ ही, इससे आँखों की ड्राईनेस और खुजली भी दूर होती है

आप नीचे दिए गए उपचारों को दिन में 3 या 4 बार कर सकते हैं

  • एक साफ कपड़े को बर्फ के पानी में भिगो लें और थोड़ा सा निचोड़ कर अपनी आँखों पर रख लें। पांच मिनट बाद इसे हटा लें और फिर से ठंडे पानी में भिगोकर उपयोग करें। ऐसा एक बार में कम से कम चार बार करें।
  • या फिर, एक साफ कॉटन की टॉवल में एक बर्फ के टुकड़े को बांधकर अपनी आँखों पर रखें।

2. कैमोमाइल टी (Chamomile Tea)

कैमोमाइल टी में शक्तिशाली एंटी-एलर्जिक प्रॉपर्टीज होती हैं, इसलिए इसे आँखों की जलन को ठीक करने में काफी इस्तेमाल किया जाता है। यह हिस्टामिन (histamine) नामक केमिकल पदार्थ के स्त्राव को रोकती है जिससे आँखों में एलर्जिक रिएक्शन को रोकने में मदद मिलती है।

साथ ही, कैमोमाइल आँखों की थकावट भी दूर करती है और उन्हें ताजा महसूस कराती है।

  • एक कप गर्म पानी में एक कैमोमाइल टी बैग को 5 मिनट के लिए डुबोकर रखें। अब बैग को बाहर निकाल दें और पानी को ठंडा होने दें। अब इस पानी से अपनी आँखों को साफ करें। ऐसा दिन में 2 या 3 बार करें।
  • या फिर, उपयोग किये हुए कैमोमाइल टी बैग्स को रेफ्रिजरेटर में डाल दें। अब इन ठंडे टी बैग्स को अपनी बंद आँखों पर 10 मिनट के लिए रखें। जल्दी ठीक होने के लिए इस उपचार को दिन में 3 या 4 बार करें।

3. खीरा (Cucumber)

खीरा में जलन मिटाने वाली और एंटी-ऑक्सीडेंट प्रॉपर्टीज होती हैं जो आँखों के इन्फ्लामेशन और जलन को ठीक करती हैं। साथ ही, इसका ठंडक प्रदान करने वाला कूलिंग नेचर आँखों के नीचे के काले घेरे (डार्क सर्कल्स) और सूजन को ठीक करने में मदद करता है।

  • एक खीरा को धोकर छोटे-छोटे स्लाइसेस में काट लें।
  • अब इन्हें 15-20 मिनट के लिए रेफ्रिजरेटर में ठंडा होने के लिए रख दें।
  • अब सीधे लेट जाएँ और दो स्लाइसेस को अपनी दोनों आँखों पर रख लें। इन्हें कम से कम 10 मिनट के लिए ऐसा ही रखा रहने दें।
  • इस उपचार को दिन में 4 से 5 बार करें।

4. ठंडा दूध (Cold Milk)

आँखों जलन को ठीक करने के लिए ठंडे दूध का इस्तेमाल काफी लोकप्रिय खरेलु उपचार है। ठंडा दूध आँखों में जलन के अनुभव को कम करता है। साथ ही, इसमें फैट होता है जो थकी हुई टायर्ड आँखों को आराम प्रदान करता है।

  • रोज सुबह और शाम एक साफ रुई के टुकड़े को ठंडे दूध में भिगोकर आँखों पर रखें।

5. गुलाब जल (Rose Water)

आँखों की जलन को ठीक करने में शुद्ध गुलाब जल सबसे कारगर घरेलू उपचार होता है। यह आँखों को ठंडक और आराम प्रदान करता है और जलन को कम करने में मदद करता है।

यहां तक कि यह थकी हुई आँखों के लिए नेचुरल रेलाक्सर की तरह काम करता है। साथ ही, यह आँखों के काले घेरे और सूजन को कम करने में मदद करता है।

  • रोज कम से कम दो अपनी आँखों को शुद्ध गुलाब जल से साफ करें।
  • आँखों की जलन से तुरंत आराम पाने के लिए गुलाब जल को ऑय ड्राप की तरह इस्तेमाल करें। दिन में दो बार गुलाब जल की 2 या तीन बूंदें आँखों में डालें।
  • या फिर, दो कॉटन बॉल्स को गुलाब में भिगोकर अपनी आँखों पर 15-20 मिनट के लिए रखें। इसे भी दिन में 2-3 बार करें।

6. ग्रीन टी (Green Tea)

हमारी ओवरआल हेल्थ के लिए ग्रीन टी काफी लाभकारी होती है। यह आँखों की जलन को कम करने में भी काफी मदद करती है। इसमें एंटी-इन्फ्लामेट्री प्रॉपर्टीज होती हैं जो आँखों को आराम प्रदान करती हैं।

साथ ही, ग्रीन टी वायरल और बैक्टीरियल इन्फेक्शन से भी लड़ती है जिनके कारण आँखों में जलन हो सकती है।

  • एक कप पानी गर्म करें। अब इसमें 2 ग्रीन टी के बैग्स को 5 मिनट के लिए डुबोकर रखें। फिर टी बैग्स निकाल दें और पानी को ठंडा होने दें। अब इसे पानी से अपनी आँखों को दिन में दो बार साफ करें।
  • या फिर, आप ठंडे और गीले ग्रीन टी के बैग को सीधे आँखों पर रख भी सकते हैं।

7. नमक का पानी (Saline Solution)

यदि धूल, पराग (pollen) या किसी अन्य एलर्जी के कारण आपकी आँखों में जलन हो रही है इसे नमक के पानी से धोकर ठीक किया जा सकता है।

नमक एक एंटीबैक्टीरियल एजेंट होता है जो बैक्टीरिया को खत्म करने में मदद करता है।

  • एक गिलास पानी को गर्म करें।
  • अब इसे ठंडा होने दें और फिर एक चम्मच नमक मिलाकर अच्छे से घोल लें।
  • अब इस पानी से अपनी आँखों को अच्छे से साफ करें। या फिर, एक कॉटन रुई की बॉल को भिगोकर आँखों को पोंछें।
  • ऐसा दिन में 2-3 बार करें।

नोट – ध्यान रखें कि पानी ज्यादा गर्म न हो, नहीं तो इससे आपकी ऑंखें डैमेज हो सकती हैं। दोनों आँखों के लिए अलग कॉटन बॉल का इस्तेमाल करें।

8. एलोवेरा (Aloe Vera)

एलोवेरा में सूथिंग और मॉइस्चराइजिंग प्रॉपर्टीज होती हैं, इसलिए इसे सूखी, पीड़ादायक और जलन वाली आँखों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है।

एलोवेरा में मेडिकल प्रॉपर्टीज होने के कारण यह आँखों के काले घेरे और सूजन को ठीक करने में भी फायदेमंद होता है।

  • एलोवेरा की पत्ती को काटकर जेल निकाल लें। अब इस जेल को अपनी आँखों के चारों तरफ की स्किन खासतौर से पलकों के ऊपर लगा लें और 15-20 मिनट बाद धो लें। इस उपाय को दिन में दो बार करें।
  • या फिर, दो कॉटन बॉल्स को एलोवेरा जूस में भिगोकर अपनी आँखों पर रखें और 15 मिनट बाद धो लें। इस उपचार को दो दिन तक सुबह शाम करें।

9. विच हैज़ल (Witch Hazel)

विच हैज़ल भी आँखों की जलन से राहत प्रदान करने में मदद करती है। इसमें एंटीइन्फ्लामेट्री (सूजन कम करने वाली) और astringent (मांसपेशियों को फ्लेक्सिबल बनाने वाली) प्रॉपर्टीज होती हैं जो आँखों की जलन और सूजन को कम करने में मदद करती हैं। विच हैज़ल का जूस किसी भी मेडिकल स्टोर पर आसानी से उपलब्ध होता है।

  • एक रुई के टुकड़े को विच हेज़ल के जूस में भिगोकर अपनी आँखों के चारों तरफ साफ करें। ऐसा रोज दो बार करने से जल्द ही आँखों की जलन और एलर्जी ठीक हो जाती है।
  • या फिर, मार्केट में विच हेज़ल के गीले टिश्यू भी उपलब्ध होते हैं जिनको आँखों पर रखा जाता है। इनको अपनी आँखों पर 15 मिनट के लिए रखें।

10. अरंडी का तेल (Castor Oil)

अरंडी के तेल को रेंडी का तेल या कैस्टर आयल भी कहा जाता है। कैस्टर आयल काफी अच्छा मॉइस्चराइजिंग एजेंट होता है और इसमें मौजूद एंटीइन्फ्लामेट्री और एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज आँखों के इन्फेक्शन को ठीक करने में मदद करती हैं। साथ ही, आपको शायद ही पाता हो कि कैस्टर आयल पलकों को पोषण प्रदान करता हैं और उन्हें लम्बा मोटा होने में मदद करता है।

  • रात को सोने से पहले अपनी दोनों आँखों में एक-एक बूंद कोल्ड-प्रेस्ड कैस्टर आयल डालें। यदि आपकी ऑंखें सूखी हैं तो आप कैस्टर आयल को रोज इस्तेमाल कर सकते हैं, यह आपकी आँखों को नम बनायेंगी।
  • ब्लेफेराइटिस नामक बीमारी जिसमें आँखों की पलकें सूज जाती हैं, होने पर रुई के टुकड़ों को कैस्टर आयल में भिगोकर पलकों पर रखें। इससे आँखों इन्फेक्शन ठीक होगा और पलकों की सूजन कम होगी। कुछ दिनों के लिए इस उपचार को रोज करें।

नोट – ध्यान रखें कि कैस्टर आयल आर्गेनिक होना चाहिए और इसमें हेक्सेन (hexane) नहीं होना चाहिए। यदि कैस्टर आयल के इस्तेमाल से आपकी ऑंखें जल रही हैं और लाल हो रही हैं तो इसका इस्तेमाल न करें।

अतिरिक्त टिप्स

  • अपनी आँखों मसलें नहीं, इससे आपकी कंडीशन और ज्यादा बिगड़ सकती है।
  • लम्बे समय तक कांटेक्ट लेन्से न पहनें।
  • एक्सपायरी ऑय ड्रॉप्स का इस्तेमाल न करें।
  • अन्य व्यक्ति के इस्तेमाल किये हुए कांटेक्ट लेंस का इस्तेमाल न करें।
  • जिन चीजों से आपको एलर्जी है उनसे बचें।
  • अपनी आँखों के स्वास्थ्य को बढ़ाने के लिए अपनी डाइट में में गाजर और पालक के जूस को शामिल करें। साथ ही, आप विटामिन A और बीटा-कैरोटीन के सप्लीमेंट भी ले सकते हैं। इनका सही डोज जानने के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।
  • धूप में निकलते समय सन ग्लासेस पहनें।
  • जब भी आपकी आँखें सूखी महसूस हों तो प्याज के जरिये आंसू निकालें। ऐसा करने से दोबारा आपकी आँखों में नमी आ जायेगी।
  • लम्बे समय तक काम करते वक्त बीच-बीच में अपनी आँखों को रेस्ट देते रहें।
  • यदि ऊपर दिए गए उपचारों को अपनाकर भी आपको फायदा नहीं मिल रहा है तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.