डायरिया को जल्दी ठीक कैसे करें – How To Get Rid of Diarrhea

डायरिया तब होता है जब पाचन तंत्र ठीक से काम नहीं करता जिसके फलस्वरूप काफी तेज और बार-बार शौच आने लगती है

डायरिया के सबसे मुख्य कारण हैं – वायरल इन्फेक्शन, बैक्टीरियल इन्फेक्शन, दूषित भोजन या पानी का सेवन, डिप्रेशन, चिंता और आंत में कोई बीमारी होना जैसे इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम, क्रोहन रोग और अल्सरेटिव कोलाइटिस।

डायरिया के दौरान व्यक्ति में कई लक्षण दिखाई देते हैं जैसे पेट में दर्द होना, पेट फूलना, जी मिचलाना और शरीर में डिहाइड्रेशन होना।

ज्यादातर मामलों में डायरिया 2 से 4 दिन में अपने आप ठीक हो जाता है। यदि प्रॉब्लम काफी गंभीर है तो इसे ठीक होने में ज्यादा समय लग सकता है। कुछ आसान घरेलू उपचारों को अपनाकर आप डायरिया को जल्दी ठीक सकते हैं।

यह भी पढ़ें

डायरिया से जल्दी छुटकारा पाने के 10 घरेलू इलाज

डायरिया के दौरान दही का सेवन करें

दही में लाइव गुड बैक्टीरिया जैसे लैक्टोबैसिलस एसीडोफिलस और बिफिदोबैक्टीरियम होते हैं जो डायरिया के इलाज में काफी फायदेमंद होते हैं।

यह आंत में डायरिया पैदा करने वाले बैड बैक्टीरिया को खत्म करते हैं और गुड बैक्टीरिया की संख्या को बढ़ाते हैं।

2009 में अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन में पब्लिश हुई एक स्टडी में यह पाया गया कि दही जैसे प्रोबायोटिक खाद्य पदार्थ एंटीबायोटिक संबंधित डायरिया को कम करने में मदद करते हैं।

  दस्त रोकने के 10 घरेलू उपाय - Loose Motion Home Remedies in Hindi

रोज सिर्फ दो कटोरी दही का सेवन करने से काफी हद तक आराम पाया जा सकता है। अधिक फायदा लेने के लिए दही के साथ केला भी खाएं।

फूड पाइज़निंग को ठीक करने के लिए अदरक खाएं

फूड पाइज़निंग के इलाज में अदरक काफी फायदेमंद होता है। साथ ही, यह पेट दर्द और क्रेम्प्स में भी राहत प्रदान करता है।

  • एक छोटे अदरक के टुकड़े छोटे पीसेस में छील लें और एक चम्मच शहद मिला दें। अब इसका सेवन कर लें। इससे गैस्ट्रिक जूस का स्त्राव बढ़ेगा और पाचन ठीक होगा। इसके सेवन के तुरंत बाद पानी न पियें।
  • या फिर, रोज दिन में दो-तीन बार अदरक की चाय का सेवन करें। एक कप पानी में कुछ अदरक टुकड़े डालकर कुछ मिनट के लिए गर्म करें। फिर इसे छान लें और स्वादानुसार शहद मिला दें। आपकी अदरक की चाय तैयार है। यदि ताजा अदरक उपलब्ध न हो तो इसके पाउडर का इस्तेमाल करें।

मेंथी के बीज होते हैं एंटी-डायरिया

मेंथी के बीजों में अत्यधिक मात्रा में mucilage होता है, इसलिए इसे डायरिया के इलाज में काफी फायदेमंद माना जाता है। Mucilage काफी स्ट्रोंग एंटी-डायरियल इफ़ेक्ट प्रदान करता है।

  • एक चम्मच मेंथी के बीजों को एक चम्मच दही के साथ सेवन करें। इसका सेवन दिन में तीन बार करें।
  • या फिर, डेढ़-डेढ़ चम्मच मेंथी के बीजों और जीरा को भून लें और तीन चम्मच दही में मिलाकर सेवन करें।

सेब का सिरका डायरिया के बैक्टीरिया को खत्म करता है

सेब का सिरका भी डायरिया में जल्दी राहत देने में मदद करता है। यह डायरिया के बैक्टीरिया के खिलाफ एक इफेक्टिव एजेंट की तरह काम करता है।

  • एक गिलास पानी में एक चम्मच सेब का सिरका मिलाकर सेवन करें।
  • इसका सेवन रोज दिन में तीन बार करें जबतक कि डायरिया पूरी तरह से ठीक न हो जाये।
  डायरिया के 10 घरेलू इलाज - Diarrhea Home Remedies in Hindi

पका हुआ केला

डायरिया के घरेलू इलाज में केला खाने भी काफी सलाह दी जाती है, क्योंकि इसमें अत्यधिक मात्रा में पेक्टिन कंटेंट होता है। पेक्टिन एक पानी में घुलनशील फाइबर होता है जो मल के अतिरिक्त पानी को सोखकर गाड़ा बनाता है।

साथ ही केला में पोटैशियम भी अधिक मात्रा में होता है। पोटैशियम एक इलेक्ट्रोलाइट होता है जो शरीर के कई महत्वपूर्ण कामकाजों में मदद करता है।

loading...

रोज दो-तीन पके केले खाएं जबतक कि आपका डायरिया पूरी तरह से ठीक न हो जाये।

कैमोमाइल और ग्रीन टी

कैमोमाइल ग्रीन टी में ऐंठन कम करने वाले गुण (एंटीस्पास्मोडिक प्रॉपर्टीज) होते हैं जो डायरिया के कारण होने वाले पेट दर्द को ठीक करने में मदद करते हैं। साथ ही, आंतों के इन्फ्लामेशन और सूजन को कम करने में भी मदद करते हैं।

दिन में दो-तीन बार कैमोमाइल या ग्रीन टी का सेवन करें।

सफेद चावल

डॉक्टर्स अक्सर डायरिया के मरीजों को प्लेन सफेद चावल खाने की सलाह देते हैं, क्योंकि यह आसानी से पच जाता है। साथ ही, यह मल को कम भी करता है।

शुरुआत में थोड़े से सादा सफेद चावल का सेवन करें (इनमें मसाले या सॉस नहीं मिला होना चाहिए)। जैसे-जैसे आपका डायरिया ठीक होता जाये, वैसे-वैसे इसकी मात्रा बढ़ाते जायें।

कलौंजी का तेल (Black Seed Oil)

कलौंजी के तेल को कई स्वास्थ्य समस्याओं जैसे गैस, पेट दर्द, अस्थमा, कब्ज और डायरिया के इलाज में इस्तेमाल किया जाता है।

  • एक कप सादा दही में एक चम्मच कलौंजी का तेल मिलाएं।
  • इसका सेवन दिन में दो बार करें, जब तक कि डायरिया के लक्षण पूरी तरह से खत्म न हो जायें।

गाजर का सूप

गाजर का सूप एक हाई-बल्क फूड होता है जिसमें बदहजमी को ठीक करने के गुण होते हैं। इसको खासतौर से बच्चों में होने वाले डायरिया में लाभकारी माना जाता है, क्योंकि यह जरूरी पोषक तत्व प्रदान करता है।

  • 500 ग्राम गाजर को धोक लें और छीलकर काट लें।
  • अब इनमें दो कप पानी मिलाएं और 15 मिनट के लिए प्रेशर कुकर में डाल डालकर गर्म करें।
  • फिर पानी को छानकर अलग कर दें और गजर को एक कटोरी में डाल दें।
  • स्वादानुसार इसमें नमक मिला दें और सेवन करें।
  • इसका सेवन कुछ दिनों के लिए रोज करें।
  दस्त रोकने के 10 घरेलू उपाय - Loose Motion Home Remedies in Hindi

तरल पदार्थों का सेवन करें

डायरिया के कारण व्यक्ति के शरीर में डिहाइड्रेशन के कारण पानी की कमी हो जाती है। इस कमी को दूर करने के लिए भरपूर मात्रा में तरल पदार्थ जैसे पानी, नारियल पानी, सब्जियों का सूप और क्लियर सोडा (जिनमें कैफीन न हो) का सेवन करें। आप बिना कैफीन वाली स्पोर्ट्स ड्रिंक्स का भी सेवन कर सकते हैं।

कैफीन और अल्कोहल युक्त ड्रिंक्स का सेवन न करें। साथ ही, एसिडिक पदार्थ जैसे टमाटर के जूस का सेवन न करें।

ऊपर दिए गए उपचार डायरिया को ठीक करने में सबसे कारगर नुस्खे माने जाते हैं, लेकिन व्यक्ति के डायरिया की तीव्रता और कारण के आधार पर इनका उसपर अलग-अलग हो सकता है। इसलिए इन उपचारों को करने के बाद भी आपकी स्थिति में कोई सुधार नहीं आ रहा है तो आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.