पैरों की बदबू दूर करने के 10 घरेलू उपाय – Home Remedies for Foot Odor in Hindi

जब भी आप कहीं जाते हैं तो क्या आपको अपने जूते और मोजे निकालने में शर्म आती है, क्योंकि ऐसा करने से पैरों से बहुत बदबू आती है जिसे आप खुद भी सहन नहीं कर सकते। यदि यह सही है तो bromhidrosis नामक बीमारी से ग्रसित हो सकते हैं जिसमें पसीने की ग्रंथियां अत्यधिक पसीना निकालती हैं और बदबू पैदा करती हैं।

हाँ, इसके कारण आपको काफी शर्मनाक अनुभव हो सकता है।

सूची

आमतौर पर पैरों में बदबू तब आती है जब आपके पैर पसीना निकालते हैं और जूते और मोजे पहने रहने के कारण यह सूख नहीं पाता। हमारी स्किन पर प्राकृतिक रूप से बैक्टीरिया मौजूद होते हैं जिनका खाना पसीना और डेड स्किन सेल्स होते हैं, और वह बदबूदार मल निकालते हैं। इन्ही बैक्टीरिया के कारण पसीने में बदबू आती है

हमारे पैरों में बदबू क्यों आती है?

  • मौसम चाहे कोई भी हो, किसी भी व्यक्ति के पैरों में बदबू आ सकती है। लेकिन यह समस्या ज्यादातर गर्भवती महिलायों और बच्चों में होती है क्योंकि उनके शरीर में हार्मोनल बदलाव होने के कारण पसीना अधिक निकलता है।
  • कोई भी व्यक्ति जो दिनभर जूते पहने रहता है या अत्यधिक डिप्रेशन में रहता है, उसे पसीना ज्यादा आता है।
  • कुछ जूते और मोजे पसीने के स्त्राव को बढ़ा देते हैं और उसे सूखने नहीं देते। यह नम और डार्क कंडीशन बैक्टीरिया की ग्रोथ को तेज कर देती है। यह बैक्टीरिया पसीने में मौजूद leucine नामक पदार्थ को isovaleric acid में बदल देते हैं। इसी isovaleric acid में बदबू आती है। बैक्टीरिया की नस्ल के आधार पर बदबू अलग-अलग हो सकती है।
  • यदि आप hyperhidrosis नामक बीमारी से ग्रसित हैं तो आपको पसीना ज्यादा आयेगा और बदबू भी अधिक होगी।
  • उचित स्वच्छता या साफ सफाई से न रहने के कारण भी पैरों में बदबू आ सकती है। जो लोग नियमित रूप से अपने पैरों, मोजे और जूतों को साफ नहीं करते वो बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया को ग्रोथ बढ़ाने के लिए उचित वातावरण प्रदान कर देते हैं।

ऐसे कई घरेलू उपचार हैं जिनको अपनाकर आप पैरों की बदबू से छुटकारा पा सकते हैं। लेकिन इसके लिए आपको इन्हें धैर्य पूर्वक नियमित रूप से अपनाना होगा। इनमें से ज्यादातर उपचार हफ्ते भर में ही पैरों की बदबू को पूरी तरह से ठीक कर सकते हैं।

पैरों की बदबू दूर करने वाले 10 सबसे कारगर उपाय

सोने से पहले पैरों में बेकिंग सोडा लगायें (Use Baking Soda Before Going to Bed)

सोडियम बाईकार्बोनेट जिसे बेकिंग सोडा भी कहा जाता है, पैरों की बदबू दूर करने में काफी लाभकारी होता है। यह पसीने के pH को कम करके बैक्टीरिया को कम करता है।

  • रोज सोने से पहले एक पानी में के टब में बेकिंग सोडा मिलाकर अपने पैरों को 15-20 मिनट के लिए डुबोकर रखें। ऐसा लगातार एक हफ्ते तक करने से पैरों की बदबू पूरी तरह से दूर हो जाती है
  • अपने दोनों मोजों और जूतों को पहनने से पहले बेकिंग सोडा के छींटे मारें।

पैरों की बदबू खत्म करने के लिए लैवेंडर का तेल लगायें (Lavender Oil)

लैवेंडर आयल काफी खुशबूदार होता है जो पैरों को महकाने में मदद करता है और यह बैक्टीरिया को मारता भी है। साथ ही, इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटीफंगल प्रॉपर्टीज होती हैं जो पैरों की बदबू का इलाज करती हैं।

  • गर्म पानी में कुछ बूंदें लैवेंडर एसेंशियल आयल की डालें।
  • अब इस पानी में अपने पैरों को 15-20 मिनट के लिए डुबोकर रखें।
  • इस उपचार को कुछ दिनों के इए रोज दिन में दो बार करें।

सेंधा नमक के जरिये पैरों में बदबू पैदा करने वाले इन्फेक्शन को खत्म करें (Epsom Salt)

सेंधा नमक मैग्नीशियम सल्फेट से बना होता है जिसका इस्तेमाल घर, खेती, ब्यूटी प्रोडक्ट, मेडिसिन्स आदि कई जगह होता है। सेंधा नमक माइक्रोबियल इन्फेक्शन को कम करके पैरों की बदबू को दूर करता है। सेंधा नमक से नहाने से शरीर में खुजली भी कम होती है।

  • गर्म पानी से भरे एक छोटे टब में तीन चम्मच सेंधा नमक मिला दें।
  • अब इसमें अपने पैरों को 10-15 मिनट के लिए डुबोकर रखें। अच्छे रिजल्ट पाने के लिए इस उपचार को रात को सोने से पहले करें।

ब्लैक टी पसीना को कम करती है और बैक्टीरियल को खत्म करती है (Black Tea)

ब्लैक टी में टैनिक एसिड (tannic acid) होती है बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करने में मदद करती है। यह पैरों में मौजूद रोम छिद्रों को बंद भी करती है जिससे पसीना कम आता है। पैरों की बदबू दूर करने के लिए डॉक्टर्स अक्सर ब्लैक टी की सलाह देते हैं।

  • तीन कप पानी में दो ब्लैक टी के बैग्स को उबालें। उबालने के बाद इसमें थोड़ा ठंडा पानी डाल दें जिससे इसका टेम्परेचर कम हो जाये।
  • फिर पानी में अपने पैरों को 15-20 मिनट के लिए डुबोकर रखें।
  • इस उपचार को लगातार एक हफ्ते तक रोज दो बार करें।

सिरका के जरिये पैरों में बैक्टीरियल इन्फेक्शन को खत्म करें (vinegar)

विनेगर भी पैरों की बदबू को दूर करने में मददगार होता है, क्योंकि यह पैरों में ऐसा एसिडिक वातावरण बना देता है जिसमें बैक्टीरिया जीवित नहीं रह पाते। आप किसी भी प्रकार का विनेगर, खासतौर से एप्पल साइडर विनेगर (सेब का सिरका) का इस्तेमाल कर सकते हैं।

  • 8 कप गर्म पानी में डेढ़ कप विनेगर मिलाएं।
  • अब इसमें अपने पैरों को 10-15 मिनट के लिए डुबोकर रखें।
  • फिर अपने पैरों को साबुन से साफ कर लें, जिससे विनेगर की गंध निकल जाए।

देवदार का तेल प्राकृतिक रूप से पैरों की बदबू दूर करने में मदद करता है (Cedarwood Oil)

देवदार के तेल को प्रकृति से निकाले जाने वाले पहले आवश्यक तेलों में से एक माना जाता है।

साथ ही, इसको अरोमा थेरेपी (aromatherapy) में काफी इस्तेमाल होता है, और इसमें एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल और एंटीसेप्टिक प्रॉपर्टीज मौजूद होती हैं। यह सब गुण देवदार के तेल पैरों की बदबू से लड़ने में काफी फायदेमंद बनाते हैं।

आप देवदार के तेल को नारियल के तेल के साथ मिलाकर इस्तेमाल कर सकते हैं। नारियल के तेल के भी कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं। इसमें लोरिक एसिड होती है जो बैक्टीरिया से लड़ती है। साथ ही, इसमें स्किन को जवां बनाये रखने वाली प्रॉपर्टीज भी होती हैं। इसको कई ब्यूटी प्रोडक्ट्स में भी इस्तेमाल किया जाता है, क्योंकि या तेल के मुकाबले यह ज्यादा देर तक स्किन पर टिका रहता है।

  • 5 बूँद अच्छी क्वालिटी के देवदार के तेल को दो चम्मच नारियल के तेल में मिला लें।
  • अब इसे धीरे-धीरे अपने पैरों पर लगाकर मसाज करें। अब कुछ देर के लिए पैरों को एक जगह रख कर बैठ जाएँ जिससे वह तेल को अच्छे से सोख लें।
  • इस उपचार को लगातार एक हफ्ते के लिए रोज करें।

बोरिक एसिड पाउडर का इस्तेमाल करें (Boric Acid)

बोरिक एसिड भी पैरों की बदबू दूर करने में काफी फायदेमंद होती है। यह बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करती है।

  • पैरों की बदबू दूर करने के लिए थोड़े से बोरिक एसिड पाउडर को अपने पसीने युक्त पैरों पर छिड़क लें।
  • या फिर, दो कप पानी में डेढ़-डेढ़ कप बोरिक एसिड और विनेगर मिला लें। अब इसे अपने जूतों के अन्दर स्प्रे करें।

शुगर स्क्रब से पैरों को साफ करें और बदबू से मुक्ति पायें (Sugar Scrub)

शुगर में स्वीटनर के अलावा कई और फायदेमंद गुण भी होते हैं। शुगर डेड सेल्स को निकालने में मदद करती है। पैरों के डेड सेल्स और calluses निकालने से भी पैरों की बदबू को कम करने में मदद मिलती है, क्यूंकि यह भी बदबू पैदा करने में सहायक होते हैं। इसका नियमित इस्तेमाल करने से पैरों को साफ रखने में मदद मिलती है और नए calluses बनने से भी रुकते हैं। आप नीचे दिए गए उपायों को अपनाकर एक शक्तिशाली होममेड शुगर स्क्रब बना सकते हैं।

  • 6 चम्मच शुगर, 2 चम्मच साफ पानी और 10 चम्मच आइसोप्रोपिल अल्कोहल (91% या अधिक) को आपस में मिला लें।
  • अब इस मिश्रण को अपने पैरों में लगाकर 5-10 मिनट के लिए स्क्रब करें। ऐसा करने से बैक्टीरिया और डेड सेल्स निकल जायेंगे। इसके बाद पैरों को धो लें।
  • इस उपचार को हफ्ते में कम से कम तीन बार करें।

नोट – अच्छे रिजल्ट पाने के लिए इस उपचार को करने से पहले अपने पैरों को गर्म पानी में डुबोकर रखें।

टेलकम पाउडर या बेबी पाउडर लगायें (Talcum Powder)

पैरों की बदबू को टेलकम पाउडर या बेबी पाउडर के इस्तेमाल से भी दूर किया जा सकता है। इन पाउडर में प्राकृतिक महक पाई जाती है और यह पसीने को सोखकर पैरों को सुखा रखने में मदद करते हैं।

रोज सुबह शाम अपने पैरों में टेलकम पाउडर या बेबी पाउडर लगायें। आप इसे अपने जूतों में छिड़क भी सकते हैं।

अदरक के इस्तेमाल से पैरों में बैक्टीरिया की ग्रोथ को रोकें (Ginger)

अदरक भी बदबूदार पैरों के लिए काफी कारगर निवारण होता है, क्यूंकि यह बैक्टीरिया की ग्रोथ को रोकता है और विषाक्त पदार्थों को हटाने में मदद करता है।

  • एक अदरक को कूटकर पेस्ट बना लें। अब इसे एक कप पानी में डालकर 10-15 मिनट के लिए उबालें।
  • इसके बाद इस पानी को छान लें और रात को सोने को सोने से पहले अपने पैरों पर लगायें।
  • इस उपचार को लगातार दो हफ़्तों को लिए रोज करें।

ऊपर दिए गए उपचार ज्यादातर पैरों की बदबू को दूर कर देते हैं, लेकिन इसे बनाये रखने के लिए आपको अपने पैरों, मोजे और जूतों को नियमित रूप से साफ रखना भी जरूरी है।

पैरों को बदबू से दूर रखने के उपाय

उचित साफ-सफाई और पैरों की देखभाल करके आप बदबू से बचे रह रकते हैं।

  • रोज अपने पैरों को एंटीसेप्टिक सोप लगाकर साफ करें और ब्रश से स्क्रब करके धूल और डेड सेल्स निकालें। ध्यान रखें, पैरों को धोने के बाद अच्छे से सुखा लें, खासतौर से उंगलियों और अंगूठे के बीच के भाग।
  • अपने नाखूनों को नियमित रूप से काटें।
  • रोज नहाने से पहले अपने पैरों को 10 मिनट के लिए पानी में डुबोकर रखें और नहाते समय इन्हें अच्छे से साफ करें।
  • अपने मोजे और जूतों को नियमित रूप से साफ करें और इन्हें गीला न पहनें।
  • परफेक्ट नाप के जूतों और मोजे का ही इस्तेमाल करें। साथ ही, गर्मी के मौसम में पहले मोजे पहनें।
  • मार्किट में उपलब्ध

यदि ऊपर दिए गए उपचारों के जरिये भी आपके पैरों की बदबू ठीक नहीं हो रही या आपको hyperhidrosis की समस्या है तो डॉक्टर से संपर्क करें।

0 Shares

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.